मुरथल घटनाक्रम का इतिहास

हर एक व्यक्ति के जीवन में ऐसा समय आता है जब वह करवट लेता है और एक ऐसे कार्य में लग जाता है; ऐसा ही एक मामला था कथित मुरथल बलात्कार जिसने मुझे अंदर तक हिला कर रख दिया. इसलिए नहीं कि मैं मानता था कि महिलाओं के साथ बदसलूकी हुई है; अपितु इसलिए कि मेरा अपनी सम्पूर्ण निष्ठा से …

Haryana Riots Case Update dated 22.09.2016

Haryana Riots

आरक्षण आन्दोलन के दौरान हुए दंगों की 22 सितम्बर की पेशी पर मेरे निजी विचार

Letter to Tribune Editor in Chief Regarding Alleged Murthal Case

Letters

एक आम वकील का पत्र ट्रिब्यून अखबार के नाम! आखिर कब जाकर ये कथित मुरथल मामले में बदनाम करना करेंगे बंद?